Web Application कैसे बनाये (Web Application in Hindi )

इस Article में हम पूरी तरह से जानेगे Web Application कैसे बनाये (How To Make Web Application in Hindi ). जब भी किसी High Quality Website पे Visit करते है।

तो उसमे जो भी Work होता है। वो सब Application के द्वारा होता है। जैसे Data Submit , Data Check Up , Log in tracking , इन सब Work के लिए एक Script लिखी जाती है। ये Small Web Script होती है।

इसके अतिरिक्त Chat bot , Image Text reader , Age Calculator , Quiz Application , Image Converter , Background remover , ये सब भी एक Application ही है। इनको कैसे बनाया जाता है , Web Application बनाने के लिए क्या Knowledge की आवश्यकता है। उस सभी के बारे में हम इस Article में पूरी तरह से जानेगे।

जैसे की हमने ऊपर बताया है। की हम Web Application के बारे में पूरी तरह से जानेगे। तो सबसे पहले जान लेते है। Web Application क्या है।

Also Read – कबीर के प्रसिद्ध दोहे

Web Application क्या है ?

Web Application एक प्रकार का Software Program होता है। जिसको किसी Special Function पे Perform करने के लिए बनाया जाता है। Web Application Web Server पे Store रहता है। और Client की Request के द्वारा ये Client के web Server पे Run होता है। Web Application के बहुत सारे Advantages है। जैसे एक प्रकार बनाने पे ये किसी भी Web browser पे Access किया जा सकता है। इसको अलग – अलग बनाने की आवश्यकता नहीं होती है।

Web Application कैसे बनाये

 "How make web application in Hindi"

किसी भी Web Application को बनाने के लिए सबसे पहले हमारे पास Idea होना चाहिए किस प्रकार का हम Web Application बनाना चाहते है। क्युकी यदि हम Web Application की बात करे तो यहाँ पे कई प्रकार के web Application होते है। वे सभी Application Different Technology पे बने होते है। लेकिन यहाँ पे हम उनको One by One बता रहे है। जैसे सबसे पहले छोटे Application उसके बाद बड़े application बताये।

Types Of Web Application in Hindi

  1. Static Web Application
  2. Dynamic Web Application
  3. Animated Web Application
  4. Content Management System

Static Web Application in Hindi

 

Static Web Application वे Application होते है। जो सिर्फ User के Web Browser पे Run होते है। ये बहुत ही basic tricky Web Application होते है। क्युकी इनमे कुछ भी Data Server से नहीं लाना होता है। और इनकी कोई भी Processing Server पे नहीं होती है। ये जो भी अपना Work करते है। तो Client के ही server पे करते है। इनको एक प्रकार ले Landing page में भी Display कराया जा सकता है।

Example of Static Web Application

  1.  Calculator Web Application
  2.  Image Converter
  3.  Stylish font generator
  4.  Lorem ipsum text generator
  5. Quiz Application

Static Web Application कैसे बनाये

Static Application को बनाने के लिए आपको HTML , CSS , Javascript प्रोग्रामिंग Language आनी चाहिए। क्युकी इनके द्वारा हम Client Web browser पे Run होने वाले कोई भी Application Create कर सकते है।

HTML – HTML के द्वारा किसी भी Application या Web pages का Structure तैयार कर सकते है। जैसे Web Pages पे Text लिखना , List बनाना , Video Add करना , Audio Add करना आदि।

CSS – CSS जिसका Full Form Cascading Style Sheet है। इसके द्वारा किसी भी web pages की design कर सकते है।

Javascript – Javascript एक Client -Side Scripting language है। जिसके द्वारा Client Side में Run होने वाले Program लिख सकते है। इसी से Client Side Static Web Application Program लिख सकते है। इसके बहुत सारे Framework है। जैसे – Jquery , Angular , React जिनका Use करके काफी बेहतरीन application create किये जा सकते है।

Dynamic Web Application in Hindi

Dynamic Application Static Application से बड़े होते है। इनका Connection server से होता है। ये Database में डाटा को Store करते है। Data Form Information को Backend में रख सकते है। इनका एक Backend भी होता है। जिसके माध्यम से Information को Delete Update भी कर सकते है।

Example of Dynamic Web Application

  1. Content Management System
  2.  Ecommerce Web Application
  3.  Keyword Checker
  4.  Web Platform Checker
  5. Chat Application
  6. Video Chat Application
  7. Chatbot

अधिकतर Website में Dynamic Web Application ही लगे हुए है।

Dynamic Web Application कैसे बनाये

Dynamic Web Application को Create करने के लिए सबसे पहले ये देखना होगा। किस Type का Dynamic Web Application बना रहे है। कितना बड़ा Dynamic Web Application होगा। क्युकी Dynamic Web Application को बनाने के लिए बहुत सी Technology है। जिनसे इसको बनाया जाता है। लेकिन अधिकतर Dynamic Web Application या इस Type की Website HTML , CSS , Javascript , Jquery , PHP , Mysql से बनते है।

PHP – PHP एक Server Side Scripting language है। जिसके द्वारा Server Side program लिख सकते है।

Mysql – ये एक database System होता है। जहा पे web Application या Website का Data Store होता है। इसको SQL Language से Access किया जाता है। यदि आपको SQL Language आती है। तो हम Database से Delete , Update , Add आदि work करा सकते है।

Leave a Comment